बुधवार, दिसंबर 19, 2012

बस और माया कैलेंडर

दिन भर टी. वी. देखा था-
गाँव से आये चाचाजी ने,
और बड़बड़ाए थे, 
पूरी रात-
बचा लो... 
कोई है?
हे धरती माता..
पूछे जा रहे हैं आज, 
सुबह से ही,
बचवा- बताओ,
या पता करो,
बस कहाँ और कब बनी थी.
माया कैलेंडर बनाने वालों ...
         ---