शुक्रवार, नवंबर 16, 2012

एक राजा था!

एक राजा था,
ठीक से कहें तो-
एक रानी थी.

प्रजा कैसी थी,
इसका पता चलते ही,
लिख दी जायेगी,
एक कहानी.


हाँ,
जितना ज्यादा लंबा लगा वक्त,
उतनी छोटी होगी,
यह कहानी.